Loading…

Ga Raha Hoon Is Mehafil Mein Lyrics | Kumar Sanu

Gaa rahaa hoo.n is mahefil me.n,aap kii muhobbat hai
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhii, woh aap kii inaayat hai
Gaa rahaa hoo.n is mahefil me.n,aap kii muhobbat hai-2
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhii, woh aap kii inaayat hai
Aap kii inaayat hai
Zindagi se kaisaa shikavaa,khud se hii shikaayat hai-2
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhii, woh aap kii inaayat hai
Aap kii inaayat hai
Gaa rahaa hoo.n is mahefil me.n

Pyaar kii woh saugaate.n,kis tarahaa bhulaadoo.n mai.n-2
Aap kaa har ek aa.nsuu,palako.n pe uthaaloo.n mai.n
Palako.n pe uthaaloo.n mai.n
Aap ke hii dam se to yeh,aaj merii shoharat hai-2
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhi,woh aap kii inayat hai,
Aap kii inayat hai
Gaa rahaa hoo.n is mahefil me.n


Kitane ra.ng hai jeevan ke, ye ajab kahaanii hai-2
Kuchh mile to kuchh kho jaaye, reet ye puraanii hai
Reet ye puraanii hai
Kis ko kyaa milaa yahaa.n sab, apanii apanii kisamat hai-2
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhii, woh aap kii inaayat hai
Aap kii inaayat hai
Gaa rahaa hoo.n is mahefil me.n

Kaash phir koi nagamaa is fizaa me.n laharaaye.n-2
Door se sahii lekin aap kii sadaa aaye
Aap kii sadaa aaye
Mere dil kii har dhadakan ab aap kii amaanat hai-2
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhii,woh aap kii inaayat hai
Aap kii inaayat hai
Gaa rahaa hoo.n is mahefil me.n,aap kii muhobbat hai
Aaj hoo.n mai.n jo kuchh bhii, woh..
Aap kii inaayat hai
Aap kii inaayat hai-8

==============================================

Loading…



गा रहा हूँ इस महेफ़िल में,आप की मुहोब्बत है
आज हूँ मैं जो कुछ भी, वोह आप की इनायत है
गा रहा हूँ इस महेफ़िल में,आप की मुहोब्बत है-२
आज हूँ मैं जो कुछ भी, वोह आप की इनायत है
आप की इनायत है
ज़िन्दगि से कैसा शिकवा,खुद से ही शिकायत है-२
आज हूँ मैं जो कुछ भी, वोह आप की इनायत है
आप की इनायत है
गा रहा हूँ इस महेफ़िल में

प्यार की वोह सौग़ातें,किस तरहा भुलादूँ मैं-२
आप का हर एक आँसू,पलकों पे उठालूँ मैं
पलकों पे उठालूँ मैं
आप के ही दम से तो येह,आज मेरी शोहरत है-२
आज हूँ मैं जो कुछ भि,वोह आप की इनयत है,
आप की इनयत है
गा रहा हूँ इस महेफ़िल में


कितने रंग है जीवन के, ये अजब कहानी है-२
कुछ मिले तो कुछ खो जाये, रीत ये पुरानी है
रीत ये पुरानी है
किस को क्या मिला यहाँ सब, अपनी अपनी किसमत है-२
आज हूँ मैं जो कुछ भी, वोह आप की इनायत है
आप की इनायत है
गा रहा हूँ इस महेफ़िल में

काश फिर कोइ नग़मा इस फ़िज़ा में लहरायें-२
दूर से सही लेकिन आप की सदा आये
आप की सदा आये
मेरे दिल की हर धडकन अब आप की अमानत है-२
आज हूँ मैं जो कुछ भी,वोह आप की इनायत है
आप की इनायत है
गा रहा हूँ इस महेफ़िल में,आप की मुहोब्बत है
आज हूँ मैं जो कुछ भी, वोह..
आप की इनायत है
आप की इनायत है-८

[submitted on 27-feb-2010]


If you notice any mistake in lyrics of Ga Raha Hoon Is Mehafil Mein song, please let us know in comments.

1000

Loading…

Popular Songs

Loading…

About FilmyDOG

Filmydog.com is the latest Song lyrics website, for all the Indian song lovers. Read & feel the best lyrics reading experience, with the best songs in India ❤️