Loading…

Bul-bul Ne Bhi Yu Gul Ko Lyrics | Alka Yagnik - Mohammad Aziz

Ho ho ho..., sajanaa mere sajanaa o o o o...
Alkaa:
Bul-bul ne bhi yu gul ko, pukaara nahin hoga-2
Jis dard se ham tumako diya karate hain aawaaz

Aziiz:
Bechain mohabbat ka, kya khub hain andaaz-2
Jis dard se tum hamako, diya karate ho aawaaz

Alkaa:
Bul-bul ne bhi yu gul ko pukaara nahin hoga
Jis dard se ham tumako, diya karate hain aawaaz

Aziiz:
Chaahat ke parawaane hain, aashiq apana naam-2
Ham ko tadapane se hi, miilata hain aaraam-2
Anjaam khuda jaane, achchha to hain aaghaaz
Jis dard se tum hamako, diya karate ho aawaaz

Alkaa:
Bul-bul ne bhi yu, gul ko pukaara nahin hoga
Jis dard se ham tumako, diya karate hain aawaaz

Alkaa:
Dil ke lahuse likh di, hamane prem kahaani [x2]
Tere hawaale kar di, apani yeh zindagaani [x2]
Afsaane likhe hamane, leke naye alfaaz
Jis dard se tum hamako, diya karate hain aawaz

Aziiz:
Bechain mohabbat ka, kya khub hain andaaz
Jis dard se ham tumako, diya karate ho aawaaz

Alkaa:
Rangon ka hain mausam, khushbu ke hain mele-2

Aziiz:
Aake gale lag jaao, ab kyon rahenge akele-2
Sach hain nahin bajata, saragam ke bina saaz
Jis dard se tum hamako diya karate ho aawaaz

Loading…




Alkaa:
Bul-bul ne bhi yu gul ko, pukaara nahin hoga
Jis dard se ham tumako, diya karate hain aawaaz

Aziiz:
Bechain mohabbat ka, kya khub hain andaaz
Jis dard se tum hamako, diya karate ho aawaaz
=========================================
हो हो हो..., सजना मेरे सजना ओ ओ ओ ओ...
अल्का:
बुल-बुल ने भी यू गुल को, पुकारा नहीं होगा-२
जिस दर्द से हम तुमको दिया करते हैं आवाज़

अज़ीज़:
बेचैन मोहब्बत का, क्या खुब हैं अंदाज़-२
जिस दर्द से तुम हमको, दिया करते हो आवाज़

अल्का:
बुल-बुल ने भी यू गुल को पुकारा नहीं होगा
जिस दर्द से हम तुमको, दिया करते हैं आवाज़

अज़ीज़:
चाहत के परवाने हैं, आशीक़ अपना नाम-२
हम को तडपने से ही, मीलता हैं आराम-२
अंजाम खुदा जाने, अच्छा तो हैं आग़ाज़
जिस दर्द से तुम हमको, दिया करते हो आवाज़

अल्का:
बुल-बुल ने भी यू, गुल को पुकारा नहीं होगा
जिस दर्द से हम तुमको, दिया करते हैं आवाज़

अल्का:
दिल के लहुसे लिख दि, हमने प्रेम कहानी - २
तेरे हवाले कर दि, अपनी येह ज़िंदगानी - २
अफ़्साने लिखे हमने, लेके नये अल्फ़ाज़
जिस दर्द से तुम हमको, दिया करते हैं आवज़

अज़ीज़:
बेचैन मोहब्बत का, क्या खुब हैं अंदाज़

Loading…



जिस दर्द से हम तुमको, दिया करते हो आवाज़

अल्का:
रंगों का हैं मौसम, खुश्बू के हैं मेले-२

अज़ीज़:
आके गले लग जाओ, अब क्यों रहेंगे अकेले-२
सच हैं नहीं बजता, सरगम के बिना साज़
जिस दर्द से तुम हमको दिया करते हो आवाज़

अल्का:
बुल-बुल ने भी यू गुल को, पुकारा नहीं होगा
जिस दर्द से हम तुमको, दिया करते हैं आवाज़

अज़ीज़:
बेचैन मोहब्बत का, क्या खुब हैं अंदाज़
जिस दर्द से तुम हमको, दिया करते हो आवाज़

[submitted on 02-may-08]


If you notice any mistake in lyrics of Bul-bul Ne Bhi Yu Gul Ko song, please let us know in comments.

1000

Loading…

Popular Songs

Loading…

About FilmyDOG

Filmydog.com is the latest Song lyrics website, for all the Indian song lovers. Read & feel the best lyrics reading experience, with the best songs in India ❤️